With a beautiful lookout in the volcano 🥺 pic.twitter.com/mlkQ19k5AH— Nayib Bukele (@nayibbukele) May 10, 2022

alt

Maruti Suzuki WagonR FFV : इस कार को फ्लेक्स फ्यूल से चलाने की तैयारी, जानिए कब होगी लॉन्च

आटो सेक्टर में ईंधन के सर्वोत्तम विकल्पों की तलाश जारी है। भारत में वैकल्पिक ईंधन को लेकर विस्तार से प्लानिंग हो रही है। जहां एक ओर सरकार जहां इलेक्ट्रिक बिटकॉइन और स्टॉक टू फ्लो मॉडल व्हीकल्स पर जोर दे रही है, वहीं दूसरी ओर फ्लेक्स-फ्यूल से चलने वाली गाड़ियों पर।

Maruti Suzuki WagonR FFV : आटो सेक्टर में ईंधन के सर्वोत्तम विकल्पों की तलाश जारी है। भारत बिटकॉइन और स्टॉक टू फ्लो मॉडल में वैकल्पिक ईंधन को लेकर विस्तार से प्लानिंग हो रही है। जहां एक ओर सरकार जहां इलेक्ट्रिक व्हीकल्स पर जोर दे रही है, वहीं दूसरी ओर फ्लेक्स-फ्यूल से चलने वाली गाड़ियों पर। भारत के कार बाजार में प्रतिद्वंदियों को कड़ी टक्कर देने वाली कंपनी मारुति सुजुकी (Maruti Suzuki) ने फ्लेक्स फ्यूल से चलने वाली वैगन आर के प्रोटोटाइप वर्जन (Maruti Suzuki WagonR FFV) से पर्दा उठा लिया है। नई वैगर आर को जापान के सुजुकी मोटर कॉर्पोरेशन से मदद लेकर मारुति सुजुकी के इंजीनियर ने देश में ही तैयार किया है।

दुनिया की पहली 'Bitcoin City' का नक्शा आया सामने , सोने के रंग में बना है बिटकॉइन सिटी का मॉडल

अल सल्वाडोर (El Salvador) की यह बिटकॉइन सिटी (Bitcoin City) एक ज्वालामुखी की तलहटी में बन रही है. यह किसी असली सिटी से बढ़कर एक क्रिप्टोकरेंसी ट्रेडिंग हब होगा. इस बिटकॉइन सिटी में बहुत सी टैक्स रियायतें देने का वादा किया जा रहा है. विदेशी निवेशकों को यहां निवेश के लिए आमंत्रित किया जा रहा है.

दुनिया की पहली बिटकॉइन सिटी (Bitcoin City) लैटिन अमेरिकी देश अल सल्वाडोर (El Salvador) में बनने जा रही है और अब अल सल्वाडोर ( El Salvador) के 40 साल के युवा राष्ट्रपति नयिब बुकेले (President Nayib Bukele) ने अपनी बिटकॉइन सिटी (BitCoin City) का 3 D मॉडल जारी किया है. बुलेने ने जिस मॉडल की फोटो शेयर की हैं, इसे सोने के रंग में बनाया गया है.

Cryptocurrency बाजार में अफरातफरी, करोड़ों के नुकसान के बाद पैसा लगाना सुरक्षित है या नहीं?

Cryptocurrency Price: दुनिया के सबसे बड़े क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज बाइनेंस के संस्थापक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) चांगपेंग झाओ ने क्रिप्टो बाजार को लेकर अधिक नियामकीय स्पष्टता का आह्वान किया है.

alt

5

alt

5

alt

बिटकॉइन और स्टॉक टू फ्लो मॉडल

इस तेज़ी से आगे बढ़ते डिजिटल संसार में पैसों नें भी डिजिटल रूप ले लिया है, इस आभासी डिजिटल मुद्रा को ही क्रिप्टो करेंसी कहा जाता है। जैसे की “बिट कॉइन”, इसका नाम आपने बहुत बार सुना होगा। आजकल क्रिप्टो करेंसी एक ऐसा विषय बन गया है जिसके बारे में सुना तो हर किसी ने है लेकिन ये डिजिटल मुद्रा क्या है ? कैसे काम करती है ? इसके लाभ क्या क्या होते हैं ? इस से हम कैसे कमाई कर सकते हैं ? ऐसे सवाल आपके मन में भी आते होंगे।

क्रिप्टो करेंसी क्या है?

तो चलिए आज जानते हैं क्रिप्टो करेंसी के बारे में, क्रिप्टो करेंसी एक आभासी यानी वर्चुवल मुद्रा है जिसे सबसे पहले वर्ष 2009 में लाया गया था और सबसे पहली क्रिप्टो करेंसी बिट कॉइन ही थी जो अबतक की सबसे ज्यादा प्रसिद्ध और सबसे महंगी कॉइन है।

क्रिप्टो करेंसी के फायदे :

  • क्रिप्टो करेंसी का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसमें धोखाधड़ी के चांस बहुत कम होते है।
  • क्रिप्टो करेंसी decentralized होते है इसलिए यूजर इसका मालिक होता है ना कि बैंक या सरकार
  • इसका इस्तेमाल करना बहुत ही आसान होता है किसी भी लेन-देन के लिए, हमें बस smart device जैसे smartphone और internet connection की जरुरत पड़ती है और तुरंत हम online भुकतान कर सकते है।
  • दुसरे payment option के मुकाबले इसमें transaction fees बहुत कम होती है।
  • और सबसे बड़ा फ़ायदा यह है कि आज के समय में लोग क्रिप्टो करेंसी में निवेश करके लाखों रूपये कमा रहे हैं।

अगले ब्लॉग में हम आपको बतायेंगे कि क्रिप्टो करेंसी में किस तरीके से निवेश करके लाखों रूपये आसानी से कमाए जा सकते हैं।

Crypto Currency News: भारत में तगड़ा चल रहा है बिटकॉइन और स्टॉक टू फ्लो मॉडल क्रिप्टोकरेंसी का खेल, बना सबसे बड़ा बाजार

Neel Mani Lal

क्रिप्टोकरेंसी

क्रिप्टोकरेंसी (फोटो साभार सोशल मीडिया)

Crypto Currency News। क्रिप्टोकरेंसी के बारे में भारत में पहले तो ज्यादातर लोगों को बहुत कुछ पता नहीं है और इनमें में बहुत से लोग क्रिप्टोकरेंसी को किसी तरह का स्कैम मानते हैं। सरकार ने भी क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन और स्टॉक टू फ्लो मॉडल को न वैधानिक दर्जा दिया है और न बिटकॉइन और स्टॉक टू फ्लो मॉडल बिटकॉइन और स्टॉक टू फ्लो मॉडल इसके लेनदेन पर बैन लगाया है। इन हालातों के बावजूद भारत में क्रिप्टोकरेंसी का लेनदेन बहुत तेजी से बहुत बड़ी तादाद में चल रहा है।

दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ते क्रिप्टो बाजारों में एशिया के तीन देश टॉप पर हैं जिनमें क्रमश: वियतनाम, भारत और पाकिस्तान का बिटकॉइन और स्टॉक टू फ्लो मॉडल नाम आता है। यही नहीं, दुनिया भर में क्रिप्टोकरेंसी को अपनाने के मामले में भारत दूसरे स्थान पर है। अब तो भारत की एक बिटकॉइन और स्टॉक टू फ्लो मॉडल क्रिप्टो कंपनी को बिजनेस बढाने के लिए 260 अरब डालर का भारी भरकम निवेश भी मिला है।

रेटिंग: 4.59
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 683